"तुम थे" एक हिंदी लव स्टोरी | Best Love Story in Hindi


Best Love Story in Hindi ("तुम थे" एक हिंदी लव स्टोरी) : यह लव स्टोरी एक लड़की की है, जो इस स्टोरी के माध्यम से अपने प्यार का जिक्र कर रही है. इस love story को लिखा है 'श्वेता सिंह' ने, हम आपको बता दें श्वेता सिंह मशहूर poetry writer हैं और इस लव स्टोरी का शीर्षक है "तुम थे".

"तुम थे" एक हिंदी लव स्टोरी - Best Love Story in Hindi

Best Love Story in Hindi

उन दिनों महज 16-17 साल की थी मैं,
और रातों को जागने की आदत मेरी नई-नई थी.
तुम्हें तभी तो नोटिस करना शुरू किया था मैंने,
और तुम्हारे साथ होने पर मुझे जो मिलती थी वो राहत नई-नई थी.

पता ही नहीं चला कि यह मुलाकात कब आदत बन गई और आदत कब जरूरत और जरूरत कब चाहत में बदल गई. शायद!!! लड़कपन की वह मेरी पहली मोहब्बत नई-नई थी. उस समय इस जुनून, उस फितूर और इस सुकून का एहसास पहले कभी हुआ ही नहीं था. क्योंकि तुम थे मेरे पास ऐसे जैसे कोई नहीं था.

याद है मुझे कि :
जब मैं थक हार कर घर आया करती थी,
और तेरा चेहरा देखकर फिर से खिल जाया करती थी. गेहूं सा तेरा वो रंग न जाने कैसा जादू करता है,
यार! I have no idea
मैं बस तेरी खुशबू से बहक जाया करती थी.
उस वक्त, उस पल, उस लम्हा तुम थे, मैं थी
हमारे दरमियां और कोई नहीं था,
तुम थे मेरे पास ऐसे जैसे कोई और नहीं था.

Remember,
उन दिनों सर्दियों की रातों में
सब घर वालों को सुलाकर
छत पर आ जाया करती थी.
कभी तुझे और कभी उस चांद को,
ताकती चली जाती थी.
तुम और चांद बड़े ध्यान से सुनते थे मुझे
जब मैं अपनी नोबेल के शब्द दर शब्द
पढ़ती चली जाती थी.


तुम्हारा temperature हमेशा
मेरे बॉडी temperature से ज्यादा रहता था,
शरारती सी मैं तुम्हें अपने दोनों हाथों से
पकड़ कर बैठ जाया करती थी.
और धीरे-धीरे बिखरती सी चांदनी रात में
जब मेरे लबों को तुम्हारा स्पर्श होता था,
तो मेरी सांसो में मानो
तुम्हारी गर्माहट की मिश्री घुल जाया करती थी.

उस तरह तो मेरे वजूद में और कोई समया ही नहीं था,
क्योंकि तुम थे मेरे पास ऐसे,
जैसे और कोई नहीं था.
जानती हूं मैं!!
आजकल यह दूरियां जरा सी बढ़ने लगी है
और मुझे जूस कॉर्नर पर किसी और के साथ देखकर
तुम्हारी थोड़ी सी तो जलने लगी है.
पर यार तुम तो वाकिफ ही नहीं,
मेरी मोहब्बत की हद से,
यह कॉफी, बीयर और नींबू पानी सब एक टाइम पास हैं,
 क्योंकि my dear मेरी जिंदगी बस तुम से ही तो चलने लगी है.

जाने बहार गुले गुलजार ऐसे नाराज ना हो यार
क्योंकि जितना नशा तुझ में है
सिगरेट और शराब में भी नहीं
जैसे तू है मेरे पास ऐसे और कोई नहीं है.


दोस्तों! यह "Best Love Story in Hindi" आपको कैसी लगी, अपने सुझाव नीचे कमेंट के माध्यम से हमारे साथ साझा कर सकते हैं. यदि आपको यह लव स्टोरी पसंद आई हो तो अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर कर सकते हैं. आप आगे भी ऐसे लेख पढ़ना चाहते हैं, तो आप हमारे ब्लॉग  Top Hindi Story पर विजिट करते रहिए. यदि आप हमसे संपर्क करना चाहते हैं तो हमारे Contect Us पेज और Facebook पेज पर हम से संपर्क कर सकते हैं. धन्यवाद

सभी आर्टिकल देखने के लिए-यहाँ क्लिक करे




संबंधित लेख :










Comments